अपनी-अपनी ज़िम्मेदारिया – Hindi kahaniyan pdf included

Hindi kahaniyan pdf included – एक बार की बात है जब एक किसान ने अपनी पत्नी से कहा : तुम बड़ी ही आलसी हो। तुम काम बहुत ही धीरे-धीरे करती हो। तुम बहुत समय खराब करती हो।

पत्नी ने अपने पति के ऐसे शब्दों से नाराज होकर कहा : आप गलत बात कर रहे हो। चलो ऐसा करते है कि आप कल घर पर रहना। मैं खेत में जाऊंगी। मैं वहां आपका काम करूँगी। क्या आप यहां घर पर मेरा काम करेंगे?

किसान ने खुश होकर कहा : बहुत अच्छा। मैं घर पर तुम्हारा काम करूँगा। पत्नी ने कहा : गाय का दूध निकालना है, कपडे धोने हैं, बर्तन साफ करने है, घर की साफ सफाई करनी है, मुर्गियों को दाना खिलाना है और सूत कातना है।

अगले दिन महिला खेत पर गई और किसान घर पर रुक गया। उसने एक बर्तन लिया और गाय का दूध निकालने के लिए चला गया। जब उसने गाय का दूध निकालने की कोशिश की, गाय ने उसे एक बहुत ज़ोर की लात मारी।

उसने कपडे धोए, बर्तन धोये और घर की साफ सफाई की। इसी में उसका दम निकल गया। अब वह मुर्गियों को दाना खिलाने के लिए चला गया लेकिन वह सूत कातना भूल गया।

इसी तरह शाम हो गई। शाम को जब पत्नी खेत से लौटकर घर आई, तो किसान ने शर्म से अपना सिर झुका दिया।

उसके बाद उसे अपनी पत्नी में कोई गलती नहीं दिखी और दोनों एक दुसरे के साथ बिना किसी शिकायत के, ख़ुशी-ख़ुशी रहने लगे।

इस कहानी से हमें यह सीख मिलती है कि हर व्यक्ति की अलग अलग जिम्मेदारियां हैंऔर  हमे उनको कभी भी छोटा नहीं आंकना चाहिए।

Download PDF file

Also read – चिड़िया का घोसला – Cartoon kahani in Hindi

Also read -शहज़ादे की बुरी आदत – Akbar Birbal Hindi kahani

Also read – विजय नगर में चोरी – Story of Tenali Raman in Hindi

Also read – इनाम का आधा हिस्सा – Akbar Birbal Hindi kahaniya

Also read -भिखारी की सीख – Small Panchatantra stories in Hindi

Also read -मुसाफिर और चालाक गाड़ीवाला – Hindi kahaniya cartoon

Also read – बीरबल का मनोरंजक उदहारण – Akbar and Birbal Hindi story

Also read – आश्रम का उत्तराधिकारी – Panchatantra stories for kids in Hindi

अगर आपको Hindi kahaniyan pdf included – अपनी-अपनी ज़िम्मेदारिया कहानी पसंद आई हो तो कृपया इसे अपने साथियो के साथ शेयर करे। धन्यवाद् ।