समय का सदुपयोग | Short stories in Hindi for class 5

Short stories in Hindi for class 5 – एक बार की बात है जब एक गांव में एक रिंकू नाम का लड़का रहता था । रिंकू कक्षा पांचवी में पढ़ता था और बड़ा ही लापरवाह लड़का था, वह पढाई में बिलकुल भी ध्यान नहीं लगता था और दिन भर खेलता-कूदता रहता था ।

एक दिन रिंकू खेलने के लिए घर से बहार जा रहा था तभी उसकी बहन रानी, जो उसकी कक्षा में साथ ही पढ़ती थी, उसे टोकते हुए बोलती है “रिंकू, एक हफ्ते बाद हमारी परीक्षा है, हमारे पास बहुत काम समय बचा है तयारी करने के लिए, आओ, मेरे साथ बैठो पढ़ने के लिए ।”

रिंकू अपनी बेहेन को जवाब देता है “रानी, अभी तो एक हफ्ते बचे है परीक्षा में, अभी से क्या पढ़ना, तुम पढ़ो, मै आराम से परीक्षा की तयारी कर लूँगा।”

समय बीतता जाता है और परीक्षा के लिए सिर्फ एक दिन बच जाता है और रिंकू ने अभी तक परीक्षा की बिल्कुल भी तैयारी नहीं की थी और वह दोपहर में फिर से बल्ला लेकर बहार खेलने जा रहा था तब उसकी बहन रानी उसे फिर से टोकती है “रिंकू, माँ, पिताजी और मै, हम तीनो तुम्हे रोज़ परीक्षा की तैयारी करने बोल रहे है लेकिन तुम यही कहते रहे कि तुम आराम से कर लोगे, अब सिर्फ आज का दिन बचा है तुम्हारे पास थोड़ी सी पढाई करने के लिए, लेकिन तुम आज भी खेलने जा रहे हो ।”

रिंकू कहता है “अरे रानी, अभी तो बहुत समय बचा है, मै आज शाम को ही पूरी तैयारी कर लूँगा, तुम मेरी बिल्कुल चिंता मत करो और ऐसा कहकर रिंकू बहार खेलने के लिए चला जाता है ।”

कुछ देर बाद मौसम ख़राब होने लगता है और तेज़ हवाएं चलने लगती है, तभी रानी के मन में बात आती है कि और घर के पास में ही खेल रहे रिंकू को चिल्ला कर कहती है “रिंकू, तेज़ हवाएं चल रही है और हो सकता है कि बिजली चली जाए और फिर अँधेरे में तुम कैसे पढाई करोगे, अभी खेलना छोड़ो और घर चल कर कल की परीक्षा की तैयारी करो ।”

रिंकू जवाब देता है “रानी तुम घर जाओ, मै थोड़ी देर में जाऊंगा और वैसे भी हवा धीरे-धीरे चल रही है तो बिजली नहीं जाएगी ।”

रिंकू अपनी बहन की बात नहीं मानता और घर वापस नहीं आता, फिर कुछ देर बाद हवा तेज़ हो जाती है और बारिश होनी चालू हो जाती है ।

रिंकू भागते हुए घर आता है और जैसे ही वह घर के अंदर घुसता है तो देखता है कि घर में बिजली नहीं जिसके कारण घर में एकदम अँधेरा है ।

रिंकू अपनी बहन रानी को देखता है और रोते हुए बोलता है “रानी, अब मै कल की परीक्षा की तैयारी कैसे करूँगा इतने अँधेरे में ।”

तभी रिंकू के पिताजी वहा आते है और रिंकू से कहते है “रिंकू, हम सब तुम्हे इतने दिनों से समझा रहते थे कि परीक्षा की तैयारी करलो लेकिन तुमने समय का सदुपयोग नहीं किया और अब देखो, समय तुम्हारा साथ नहीं दे रहा है ।”

रिंकू परीक्षा की बिल्कुल भी तैयारी नहीं कर पाता और परीक्षा में अनुत्तीर्ण हो जाता है ।

इस Short stories in Hindi for class 5 – समय का सदुपयोग कहानी से हमें यह सीख मिलती है कि हमें हमेशा अपना कार्य सही समय पर कर लेना चाहिए क्योकि समय निकलने के बाद उस कार्य का महत्व काम हो जाता है या ख़तम हो जाता है

Also read – Hindi story for class 1 – लोमड़ी की चालाकी

Also read – Animal story in Hindi – भालू और लालची बन्दर

Also read – Friendship story in Hindi – चार बहानेबाज़ दोस्त

Also read – Hindi story for class 2 with moral pdf included – आत्मविश्वास

Also read – Story for kids in Hindi pdf included | ईमानदार बच्चे की कहानी

अगर आपको कहानी पसंद आई हो तो कृपया इसे अपने साथियो के साथ शेयर करे। धन्यवाद्।

error: Content is protected !!