कंजूस आदमी | Short story in Hindi for class 1

Short story in Hindi for class 1 – एक बार की बात है जब एक गांव में एक बुज़ुर्ग आदमी रहता था । वह छोटे से घर में अकेले रहता था और बड़ा ही कंजूस था । बुज़ुर्ग ने अपनी नौकरी के समय में बहुत पैसे कमाए थे लेकिन उसे वह पैसे खर्च करना बिलकुल भी पसंद नहीं था और वह उन पैसो को जमा करके रखता था ।

आदमी को डर था कि उसके पैसे घर में रखने से कही चोरी ना हो जाए इसके लिए वह अपने सारे पैसो को एक मटके में भर के अपने घर के पीछे बनी छोटी सी सब्जियों की बाड़ी में एक गढ्ढे के नीचे छुपाकर रखता और रोज़ रात में उसे गढ्ढे से बाहर निकालकर देखता और गिनता कि कही पैसे कम तो नहीं हो गए है ।

के रात एक चोर पुलिस से भागते हुए उस बुज़ुर्ग आदमी की बाड़ी में छुप जाता है और कुछ देर बात हमेशा की तरह  बुज़ुर्ग आदमी चुपके से अपने घर के पीछे आता है और गढ्ढा खोदकर पैसो के मटके को बाहर निकलता है और सारे पैसे गिनता है और पैसे गिनने के बाद खुश होकर वापस घर के अंदर चला जाता है ।

चोर चुप के साडी चीज़े देख रहा होता है और मन ही मन सोचता है “मै तो सोच रहा था कि इस छोटे से घर में कोई गरीब रहता होगा जो बेचारा कितनी परेशानी से अपना जीवन काट रहा होगा, लेकिन इस आदमी के पास तो इतना सारा पैसा है कि यह अपना पैसा घर के बाहर गढ्ढे में छुपकर रखता है ।”

ऐसा सोचकर चोर गढ्ढे से मटकी निकालता है और सारे पैसे लेकर भाग जाता है ।

अगली रात जब बुज़ुर्ग आदमी गढ्ढा खोदता है तो देखता है कि मटके में एक भी पैसा नहीं है और सारे पैसे चोरी हो चुके है ।

आदमी ज़ोर-ज़ोर से चिल्लाकर रोने लगता है जिसे सुनकर आस-पास के लोग वह आ जाते है और उससे पूछते है कि वह क्यों रो रहा है ।

बुज़ुर्ग आदमी उनको सारी बात बताता है जिसे सुनकर वे सभी आश्चर्य में पड़ जाते है कि कोई व्यक्ति ऐसा भी कर सकता है ।

फिर एक व्यक्ति बुज़ुर्ग आदमी को को समझदा है “चाचा जी, आपके पास इतने सारे पैसे थे और फिर भी आप इतनी गरीबी में रहते थे  बजाए उसे अपने ऊपर खर्च करने के । ऐसी पैसे भी किस काम के जो की खुद के उपयोग ही ना आए ।

पैसे बचाना अच्छी बात है लेकिन ज़रूरत पड़ने पर उसे अपने ऊपर ही ना खर्चना ये तो सर्फ मूर्खता ही है ।

इस Short story in Hindi for class 1 – कंजूस आदमी कहानी से हमें यह सीखने को मिलता है कि हमें पैसे अपने बुरे समय के लिए बचाना चाहिए लेकिन जब वह समय आता है तो उस पैसे को खर्च भी करना चाहिए ताकि उन बचत के पैसो का महत्व बना रहे ।

Also read – Moral Hindi short story – अच्छे कर्म का फल

Also read – Hindi short story for kids – बदक और आज्ञाकारी बच्चे

Also read – Moral stories in Hindi for kids – चींटी और घमंडी हाथी

Also read – Small story for kids in Hindi – तीन मछलियों की कहानी

Also read – Short story in Hindi with moral values – ईमानदार गाय

अगर आपको कहानी पसंद आई हो तो कृपया इसे अपने साथियो के साथ शेयर करे। धन्यवाद्।

error: Content is protected !!